Agneepath Bharti Yojana: अग्निपथ युवाओं के लिए मौका या धोखा?, क्या है Tour Of Duty

Agneepath Bharti Yojana : आज के इस आर्टिकल में हम Agneepath Bharti Yojana के बारे में चर्चा करने वाले हैं. साथ ही जानेंगे कि आखिर “Tour Of Duty” क्या है? युवाओं के लिए Agneepath Scheme 2022 सही है या गलत किस आर्टिकल में हम पूरा विश्लेषण करेंगे. आप भी जरूर सरकार की इस टूर ऑफ ड्यूटी का विरोध कर रहे होंगे. या हो सकता है आपको यह स्कीम अच्छी लग रही हो तो हम आज इस आर्टिकल में फायदे और नुकसान दोनों के बारे में बताएंगे. यदि आप भी Agneepath Scheme salary, Agneepath Scheme eligibility, Agneepath scheme notification आदि सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं के बारे में विस्तार से जानेंगे.

केंद्र सरकार ने रक्षा बलों के लिए अग्निपथ भर्ती योजना की घोषणा की है इसके तहत अब सैनिकों को सिर्फ 4 साल के लिए भर्ती किया जाएगा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सेना में भर्ती प्रक्रिया में बड़े बदलाव के लिए अग्निपथ भर्ती योजना का ऐलान किया है रक्षा मंत्री ने बताया कि अग्नि पद्धति योजना के तहत सेना में 4 साल के लिए युवाओं को भर्ती कराया जाएगा इसके साथ ही उन्हें नौकरी छोड़ते वक्त सेवा नितिन पैकेज मिलेगा इस योजना के तहत सेना में शामिल होने वाले युवाओं को अग्नि भी सहा जाएगा इस योजना के तहत भर्ती किए जाने वाले ज्यादातर जवानों को 4 साल बाद मुक्त कर दिया जाएगा

हालांकि कुछ जवान अपनी नौकरी को जारी रख सकेंगे साडे 17 साल से 21 साल के युवाओं को मौका मिलेगा ट्रेनिंग 10 हफ्ते से 6 महीने तक होगी 10वीं और 12वीं के छात्र आवेदन कर सकेंगे 90 दिन अग्नि वीरों की पहली भर्ती होगी अगर कोई अग्निवेश देश सेवा के दौरान शहीद हो जाता है तो उसके परिजनों को सेवा निधि समेत एक करोड रुपए से ज्यादा की राशि ब्याज समेत मिलेगी इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन दिया जाएगा

भाई अगर कोई आदमी भी डिसएबल हो जाता है तो उसे ₹44000 तक की राशि दी जाएगी इसके अलावा बाकी बची नौकरी का भी वेतन मिलेगा पूरे देश में मेरिट के आधार पर भर्तियां होंगी जो लोग इस भर्ती परीक्षा में चयनित होंगे उन्हें 4 साल के लिए नौकरी मिलेगी इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे एयर चीफ मार्शल पी आर चौधरी नौसेना की सैलरी कुमार मौजूद रहे सवालों का शुरुआती अनुमान है कि अगर योजना के तहत अच्छी खासी संख्या में सैनिकों की भर्ती हुई तो वेतन और पेंशन के मध्य में हजारों करोड रुपए की बचत होगी रिक्तियां होने की स्थिति में योजना के तहत भर्ती सर्वश्रेष्ठ युवाओं को सेना में बने रहने का अवसर दें सकता है

सैन्य मामलों के विभाग ने योजना बनाने से पहले 8 देशों के इसी तरह के मॉडल का अध्ययन किया था आपको बता दें कि तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस योजना का प्रेजेंटेशन दिया था इस योजना के तहत सेना में युवक कम समय के लिए भर्ती हो सकेंगे जिसके तहत युवा 4 साल के लिए सेना में शामिल हो सकते हैं और देश की सेवा कर सकते हैं

Agneepath Bharti Yojana Overview

YojanaAgneepath Bharti Yojana
Year2022
Age17.6 to 21 Year
First Batch2023
Salary30,000- 40,000 Rupee Per Month
Insurance48 Lakh
Official WebsiteComing Soon

 

Agneepath Scheme salary

सरकार ने किसी युवा का कोई सपना नहीं तोड़ा है यदि आपका सपना सेना में रहकर ही देश की सेवा करना है तो आप 4 साल की अपनी नौकरी के बाद भी सेना में रह सकते हैं क्योंकि इस योजना में यह भी सुविधा दी गई है कि 25% सैनिकों को इसमें फिर से भर्ती कर लिया जाएगा और 75% सैनिकों को रिटायर कर दिया जाएगा. बता दें कि रूट सहित 85 देशों में सभी नागरिकों को आर्मी में सेवा देना अनिवार्य होता है जबकि हमारे देश में अनिवार्य जैसा कोई शब्द नहीं है.

युवाओं को इस में पहले साल में 4.76 लाख रुपए का पैकेज दिया जाएगा वहीं चौथे साल तक पैकेज 6.92 लाख रुपए तक पहुंच जाएगा. सरकार द्वारा सैनिकों की नौकरी के दौरान उनको 70% ही वेतन मिलेगा 30% सरकार सैनिकों के खातों में रखेगी जिसके बाद सरकार भी उतनी ही राशि मिलाकर 4 वर्ष के बाद सैनिकों को एक साथ पैसे प्रदान करेगी. वही इस राशि पर सैनिकों को कोई टैक्स नहीं देना होगा.

Agneepath Scheme eligibility

Agneepath Bharti Yojana के अंतर्गत साढे 17.5 वर्षीय युवाओं से लेकर 21 वर्ष के युवाओं तक को इस में भर्ती किया जाएगा. 4 वर्ष के रिटायर के पश्चात यह युवा चाहे तो आर्म्ड फोर्सेज या पुलिस फोर्सेज में अप्लाई करके आसानी से जा सकेंगे.

सेनाओं में अग्निपथ की जरूरत क्यों?

  1. सेनाओं की सैलरी और पेंशन का खर्च बचेगा.
  2. बचे हुए पैसों के जरिए सेना में आधुनिकीकरण किया जा सकेगा.
  3. हथियार एवं नए नए उपकरण खरीदने के लिए रकम बचेगी.
  4. वर्तमान में लगभग 60% रक्षा बजट सैलरी और पेंशन में जाता है.
  5. सेनाओं में सभी वर्गों को बराबर मौका मिलेगा.
  6. अभी कई रेजिमेंट जातियों और समुदायों के नाम पर हैं.
  7. वही इन रेजीमेंटो में बाहरी लोगों की भर्ती पर रोक है.
  8. सेनाओं में खाली जगहों पर जल्दी भर्ती की जा सकेगी.
  9. वर्तमान में सेनाओं में लगभग सवा लाख जवानों की कमी है.

किन युवाओं के साथ हुआ है गलत

सरकार ने सबसे गलत उन युवाओं के साथ किया है जिन्होंने पिछली कई भर्तियां पास कर ली थी और उनमें से कई ने तो मेडिकल और फिजिकल एग्जाम भी क्लियर कर रखे थे. लेकिन सरकार ने एक झटके में इन युवाओं के सपने पर पानी फेर दिया है. और ऐसे कहीं और भी युवा हैं जो कई कई सालों से आर्मी भर्तियों की तैयारी कर रहे थे और इंतजार भी कर रहे थे.

FAQs related to Agneepath Bharti Yojana

Q1. अग्निपथ योजना क्या है?

Ans. इस योजना के अंतर्गत युवाओं की 4 साल के लिए भर्ती की जाएगी. इन सैनिकों को अग्निवीर कहा जाएगा.

Q2. Tour Of Duty क्या है?

Ans. Tour Of Duty का ही नाम बदलकर बाद में अग्निपथ किया गया है जिसमें युवाओं को 4 साल के लिए सेनाओं में आने का मौका दिया जाता है.

Q3. यदि किसी सैनिक की ड्यूटी के दौरान मौत हो जाती है तो क्या होगा?

Ans. यदि किसी सैनिक की ड्यूटी के दौरान मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को ₹48 लाख रुपये और यदि उसने 4 साल में सैलरी भी नहीं ली है तो एक करोड़ से भी अधिक रुपए दिए जाएंगे.

Leave a Comment