Banking News : ₹ 500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या है बड़ी खबर

₹ 500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश

पैसा हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा है और हम सभी रोजाना जब भी बाजार में जाते हैं कोई भी सामान लाते हैं या कोई भी सर्विस काम में लेते हैं तो उसके लिए हमें पैसा देना पड़ता है भाई और आमतौर पर डेली लाइफ में जो काम आने वाली नोट्स हैं उनमें 100 और ₹500 के नोट ज्यादा होते हैं  1000 के नोटों का उपयोग वैसे भी बहुत कम ही होता है ऐसा है तो आगरा में ₹500 के नोट से लेनदेन करते हो तो भारतीय रिजर्व बैंक का आर्मी की तरफ से सभी बैंकों को अहम निर्देश दिए गए हैं जो एक आम नागरिक को भी जानना जरूरी है आपको पता होगा अभी कुछ सालों पहले मतलब साल 2016 में नोटबंदी हुई थी मोदी सरकार ने दी मोनेटाइजेशन किया था और उसके बाद से ही फीस को लेकर कई तरह की खबरें सामने आती रहती हैं अक्सर आपने देखा होगा कि ₹10 के सिक्कों को लेकर भी चलती हैं सभी प्राइवेट और सरकारी बैंकों को कुछ अहम निर्देश जारी किए हैं

आरबीआई बैंक के आदेश 

आइए देखते कि आरबीआई ने बाकायदा ₹500 के नोटों को लेकर क्या बयान दिया है ₹500 का ज्यादातर लोग इस्तेमाल करते हैं और रकम बड़ी होने की वजह से इसके नकली होने पर नुकसान भी पढ़ाई होता हैलोगों के लिए इतनी बड़ी करेंसी का असली होना बहुत जरूरी है और यही वजह की करेंसी को लेकर आरबीआई भी काफी सख्त हैं कई बार लौट के अनफिट होने की वजह से भी लोगों को बैंकिंग आदि कामों में परेशानी होती हैं देखिए बैंकों के लिए आरबीआई का क्या निर्देश है रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बैंकों से कहा कि वे हर 3 महीने में ठीक था और स्थिरता के लिए अपनी नोट छपाई मशीनों का परीक्षण करें

इतना ही नहीं इसके साथ ही आरबीआई ने यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि प्रिंटेड नोट तय मापदंडों के अनुसार हैं या नहीं इसकी भी बारीकी और सटीकता के साथ जांच की जाए और इसकी रिपोर्ट भी आरबीआई को समय-समय पर भेजी जाएं दरअसल आरबीआई की ओर से नोटों की सही कंडीशन के लिए 11 मानक निर्धारित किए हुए हैं और साथ ही बैंकों को नोट्स वोटिंग मशीनों के बताए नोटशीट सेटिंग मशीनों का इस्तेमाल करने का निर्देश भी दिया है आप कंफ्यूज हो कि आखिर क्या होता है

नोट की श्रेणी ।

बता दो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के मुताबिक नोटों को दो श्रेणी में रखा गया 1 फीट नोट और दूसरा अनफिट नोट सबसे पहले तो आप का एक कंफ्यूजन दूर कर दो कि यहां दोनों ही तरह के जो नोट हैं ना वह असली है हम यहां पर फेक करेंसीज की बात नहीं कर रहे हैं मतलब नकली नोटों की बात नहीं कर रहे हैं नोटों का लेन-देन करते समय नोट की जो कुछ बेसिक आईडेंटिटी होती हैं वह तो आपको जरूर ध्यान में रखनी चाहिए ताकि कहीं कोई आपको नकली नोट देकर छूना ना लगा दे भाई लेकिन इसके अलावा

एक अनफिट नोट आरबीआई के सर्कुलर के मुताबिक 1 फीट नोट वह होता है जो जेन्युइन होता है क्लियर साफ सुथरा किसके वैल्यू का आसानी से पता लगाया जा सके जो रीसाइक्लिंग के लिए उपयुक्त 1 फीट नोट में वह आता है जो अपनी फिजिकल कंडीशन के कारण रीसाइक्लिंग के लिए उपयुक्त नहीं है कई अनफिट नोट चीज है जिसे भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से सेवाए समाप्त कर दिया गया

Leave a Comment