Happy Raksha Bandhan में इस समय भूलकर भी राखी न बांधे

Happy Raksha Bandhan News 

Happy Raksha Bandhan:नमस्कार दोस्तों इस बार रक्षाबंधन के त्यौहार पर आपको बहुत कुछ सावधानियां रखने की जरूरत है भद्रा काल में अपने भाई को बिल्कुल भी राखी ना बांधे भद्रा काल का समय क्या रहेगा यह भी मैं आपको बताऊंगा और इसके अलावा कई ज्योतिषी का यह मानना है कि इस बार रक्षाबंधन 11 अगस्त को रहेगी या 12 अगस्त को क्योंकि इस बार जो पूर्णिमा तिथि की शुरुआत है ना आपको बताता सावन मास की पूर्णिमा तिथि को रक्षाबंधन का त्यौहार होता है

नीमा तिथि की शुरुआत सुबह 11 अगस्त की सुबह मतलब 10:38 से शुरू हो जाएगी जो 12 अगस्त को सुबह 7:05 तक रहेगा लेकिन आप इस दुविधा में ना रहे हैं कि रक्षाबंधन 11 अगस्त को है 12 अगस्त को क्योंकि रक्षाबंधन तो 11 अगस्त 2022 गुरुवार के दिन ही मनाया जाएगा लेकिन सभी बहनों को यह ध्यान रखना चाहिए कि अपने भाइयों को राखी शुभ मुहूर्त में ही बांधे भद्रा काल में राखी बिल्कुल भी नहीं माननी चाहिए आपको बता देता है

Happy Raksha Bandhan
Happy Raksha Bandhan

राखी कब बांधे

भद्रा काल में ही लंकापति रावण की बहन शूर्पणखा ने उनकी कलाई पर राखी बांधी थी जिसके चलते लंकापति रावण का 1 साल के अंदर-अंदर सर्वनाश हो गया और ऐसा माना जाता दोस्तों की पद राज्यों को शनिदेव की बहन थी जिसे ब्रह्मा जी ने शराब दिया था कि अगर कोई भी भद्रा में शुभ या मांगलिक कार्य करेगा तो उसका परिणाम है शुभ होगा जिसके चलते ही भद्रा काल के दौरान राखी नहीं बांधी की सलाह दी जाती है तो ऐसे में इस बार रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त जो रहेगा वह क्या करेगा किस किस टाइम के अनुसार मैं आपको बता दूं सबसे अच्छा शुभ मुहूर्त जो अभिजीत मुहूर्त होता है और इस बार हमारे यहां रक्षाबंधन का अभिजीत मुहूर्त का समय रहेगा वह क्या सुबह को 3:00 सुबह 11:30 से 12:30 तक रहेगा

वापस दोपहर में 2:14 से 3:07 तक विजई मुहूर्त रहेगा इधर भी बहाने अपने भाई को राखी बांध सकती है सबसे अच्छा मुहूर्त अभिजीत मुहूर्त उसके बाद विजय मुहूर्त में रक्षाबंधन के दिन राखी बांधी जा सकती है इसके बाद रक्षाबंधन का मुहूर्त राखी बांधने के लिए शुभ माना था अब आपके मन में एक सवाल आ रहा का दोस्त हूं कि भद्रा काल के दौरान राखी नहीं बांधी है यह बात तो आपको ध्यान रखनी है लेकिन रक्षाबंधन के दिन भद्रा काल का समय क्या रहेगा तो आपको बता दूं 11 अगस्त 2022 को शाम 5:17 पर भद्रा पुच्छ शुरू होकर शाम 6:18 पर खत्म होगा फिर वापस शाम 6:18 से शुरू होगा जो रात्रि 8:00 बजे तक रहेगा यानी कि मोटा मोटी मान के चलिए आप के 5:15 बजे से लेकर रात 8:00 बजे तक के दौरान रक्षाबंधन के दिन आप राखी बिल्कुल ना बंदर भद्राकाल रहेगा और भद्रा काल में अशुभ माना जाता है

अगर किसी कारणवश भद्रा काल में राखी बांधना पड़े तो आप प्रदोष काल में अमृत शुभ लाभ का चौघड़िया देख कर राखी बांध सकते हैं ओके दोस्तों की उम्मीद है एस्ट्रोलॉजी साइंस ज्योतिष विज्ञान को लेकर यह महत्वपूर्ण न्यूज़ अपडेट इंफॉर्मेशन आप जरूर जाने होंगे आपके मन में और कोई सवाल है तो मुझे नीचे कमेंट करके बताइए मेरी

Leave a Comment